योगी योजना 2021: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ योजनाएं, Yogi Yojana List In Hindi

योगी योजना 2021: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ योजनाएं, Yogi Yojana List In Hindi

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सरकारी योजना सूचीYogi Yojana List, योगी आदित्यनाथ सरकारी गवर्नमेंट स्कीम्स की जानकारी हिंदी में आपको इस लेख में दी जाएगी। आप सभी जानते है की इस समय माननीय योगी आदित्यनाथ को उत्तरप्रदेश का मुख्यमंत्री बनाया गया है। मुख्यमंत्री बनने के बाद पिछले तीन वर्षो में योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा प्रदेश के नागरिको के लिए बहुत सी कल्याणकारी योजनाओं की शुरुआत की गयी है। इस योजनाओ के माध्यम से राज्य के सभी वर्गों के लोगो को बहुत लाभ प्राप्त हुए हैं।

Yogi Yojana List

योगी योजनाएं – Yogi Yojana List

दिन-प्रतिदिन, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री राज्य के नागरिकों के लिए नई योजनाएं शुरू करते रहते है ताकि उन्हें अधिक से अधिक लाभ प्रदान कर सके| योगी योजनाएं उत्तर प्रदेश की प्रगति और विकास के लिए एक अच्छा कदम हैं।  सरकार द्वारा लागु की गई इन योजनाओ  का लाभ उठाने के लिए इस लेख को विस्तार से पढ़ें और योजना के तहत आवेदन करें।

हमने वर्ष 2017 से अब तक योगी आदित्य नाथ जी द्वारा शुरू की गई विभिन्न प्रकार की सरकारी योजनाओं की पूरी सूची नीचे दी है, आप इसे ध्यान से पढ़िए। यहाँ हम आपको यूपी के मुख्यमंत्री योगी  आदित्यनाथ जी द्वारा शुरू की गई योगी योजना के बारे में जानकारी देंगे  जैसे कि महत्वपूर्ण दस्तावेज, लाभ, महत्वपूर्ण तिथियां, पंजीकरण प्रक्रिया, उपयोगकर्ता दिशानिर्देश और आधिकारिक वेबसाइट।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सरकारी योजनाएं

उत्तर प्रदेश राज्य की सरकार अपने राज्य की जनता के  विकास के लिए हर संभव कोशिश कर रही है। महिला कल्याण, युवा कल्याण, कृषि कल्याण के लिए सरकार द्वारा, योगी योजना के तहत, विभिन्न प्रकार के मंत्रालय द्वारा, भिन्न भिन्न प्रकार के कल्याणकारी कार्यक्रम चलाए जा रहे हैं। जनसंख्या के मामले में उत्तर प्रदेश सबसे बड़ा राज्य है।

वर्ष 2017 में योगी आदित्य नाथ जी उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री बनने के बाद, योगी योजना के रूप में राज्य के बच्चों, महिलाओं, श्रमिकों, किसानों, आर्थिक रूप से गरीब लोगों के लिए कई तरह की योजनाएं शुरू की हैं। इन योजनाओं से  बेरोजगार युवा को रोजगार मिल रहा  हैं और आर्थिक रूप से गरीब लोगों को वित्तीय सहायता|  इसी तरह, कई ऐसी योजनाएं हैं जो हम आपको विस्तार से बताएंगे।

योगी आदित्यनाथ सरकारी योजना सूची

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री जी के द्वारा योगी योजना के माध्यम से सभी वर्गों के लोगो को लाभ पहुंचाया जा रहा है। योगी जी उत्तर प्रदेश की प्रगति और विकास के लिए नयी से नयी योजनाओ को शुरू करके एक अच्छा कदम उठा रही हैं। आप हमारे इस पोर्टल पर योगी आदित्यनाथ की सरकारी योजनाओ का लाभ लेने के लिए सभी जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। यह आपको योगी आदित्यनाथ की वर्ष 2017 से अब तक की सभी योगी योजनाओ का विवरण मिल जायेगा।

यहां आपको मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की महिलाओ, बुजुर्गो, विकलांगजनो और विधवा महिलाओ के लिए शुरू की गयी योगी योजना की समस्त जानकारी दी जाएगी। यूपी के मुख्यमंत्री जी के द्वारा आरंभ की गई मुख्य योजनाओं के बारे में समस्त जानकारी जैसे जरूरी दस्तावेज,लाभ, महत्वपूर्ण तिथियां, पंजीकरण प्रक्रिया, उपयोगकर्ता दिशानिर्देश और आधिकारिक वेबसाइट आपके साथ साझा करेंगे। आप हमरे इस पोर्टल को बुकमार्क करके नियमित रूप से जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

योगी योजना के लाभ

  • उत्तर प्रदेश के नागरिकों को योगी योजना का लाभ मिलेगा।
  • उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ ने राज्य  के सभी नागरिकों और सभी जातियों के लिए कई अलग-अलग योजनाएं शुरू की हैं।
  • महिला कल्याण, युवा कल्याण, कृषि कल्याण में योगी योजना के तहत विभिन्न प्रकार के मंत्रालय द्वारा विभिन्न प्रकार के कल्याणकारी कार्यक्रम चलाए जा रहे हैं।
  • राज्य के गरीब नागरिकों को विभिन्न योजनाओ के तहत सहायता प्रदान की जा रही है। राज्य के बच्चों, महिलाओं, मजदूरों, किसानों, आर्थिक रूप से गरीब लोगों के लिए भी योजनायें बनाई गयी है और आगे भी बनेगी ।
  • योगी योजना में , यूपी में रहने वाले सभी बेरोजगार युवाओ को रोजगार प्रदान करना भी शामिल है ।

भाग्यलक्ष्मी योजना उत्तर प्रदेश

गरीब परिवारों की लड़कियों को वित्तीय सहायता प्रदान करने के लिए उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा यूपी भाग्यलक्ष्मी योजना शुरू की गई है। उत्तर प्रदेश भाग्यलक्ष्मी योजना के तहत, राज्य सरकार ने बेटी के जन्म के बाद बेटी के लिए 50,000 रुपये की वित्तीय सहायता का दावा किया है। साथ ही, राज्य सरकार द्वारा यह सूचित किया गया है कि बेटी की मां को 5100 रुपये की राशि प्रदान की जाएगी। ताकि मां और बेटी की परवरिश ठीक से हो। यह योजना मुख्य रूप से कन्या भ्रूण हत्या जैसे अपराध को रोकने के लिए बनाई गई है।

Bhagya Laxmi Yojana UP Registration

यूपी भाग्यलक्ष्मी योजना के अनुसार, जिन परिवारों की वार्षिक आय 2 लाख रुपये से कम होगी, वे इस योजना के तहत आवेदन कर सकते हैं। यह योजना गरीबी रेखा से नीचे (बीपीएल) परिवार के केवल दो बालिकाओं के लिए होगी। उत्तर प्रदेश राज्य की इस योजना की मदद से गरीब परिवारों की बेटियों को भी उच्च शिक्षा प्राप्त करने में बड़ी मदद मिलेगी। आवेदन करने के लिए, आपको महिला और बाल विकास विभाग, उत्तर प्रदेश की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा और आवेदन पत्र पीडीएफ डाउनलोड करना होगा। आवेदन पत्र भरकर अपने नजदीकी आंगनवाड़ी केंद्र या महिला कल्याण विभाग के कार्यालय में जमा करें।

उत्तर प्रदेश श्रमिक भरण पोषण योजना

उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा कोरोना वायरस के संक्रमण के समय में दिहाड़ी मजदूरों के लिए उत्तर प्रदेश श्रमिक भरण पोषण योजना (यूपी मजदूर भत्ता योजना) शुरू की गई है। इस योजना के तहत, प्रति व्यक्ति प्रति व्यक्ति 1,000 रुपये का भत्ता (प्रति व्यक्ति 1,000 रुपये का भत्ता), 15 लाख से अधिक दैनिक वेतन भोगी मजदूर और निर्माण क्षेत्र के रिक्शा, खोमचे, फेरीवाले, निर्माण श्रमिकों के 20.37 लाख मजदूर। यह कहा गया है कि इस योजना के माध्यम से श्रमिकों की दैनिक रखरखाव समस्याओं को कम करने का प्रयास किया जाएगा।

Yogi Majdur Bhatta Yojana Online Apply

इस योजना के तहत, सहायता राशि सीधे लाभार्थी श्रमिकों को डीबीटी के माध्यम से वितरित की जाएगी। गरीब दिहाड़ी मजदूरों और निर्माण श्रमिकों (रिक्शा-खींचने वाले, सड़क विक्रेता, सड़क बनाने वाले, निर्माण श्रमिक) को यूपी सरकार द्वारा 1000 रुपये की वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी। किसी भी प्रकार के भ्रष्टाचार से बचने के लिए, सहायता राशि सीधे बैंक खाते में डीबीटी के माध्यम से स्थानांतरित की जाएगी। इस योजना का लाभ लेने के लिए, नगर निगम, नगर पालिका, नगर निकाय द्वारा आवेदन पत्र प्रदान किए जाएंगे।

मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना

उत्तर प्रदेश में कई ऐसे नागरिक हैं जो बेरोजगार घूम रहे हैं, और उन्हें कोई रोजगार नहीं मिल रहा है। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ जी ने इस समस्या को देखते हुए उत्तर प्रदेश युवा स्वरोजगार योजना शुरू की है, जिससे राज्य का कोई भी युवा बेरोजगार नहीं होगा और सभी को स्वरोजगार के अवसर प्रदान किए जाएंगे। मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना के माध्यम से, राज्य सरकार उन बेरोजगार युवाओं को स्वरोजगार शुरू करने के लिए 25 लाख रुपये की वित्तीय सहायता प्रदान करेगी।

UP Yuva Swarozgar Yojana Apply

उत्तर प्रदेश राज्य द्वारा शुरू की गई मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना 2020 के तहत केवल शिक्षित युवाओं को योग्य माना जाएगा। मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार के तहत, सरकार द्वारा परियोजना लागत की कुल राशि के 25% मार्जिन मनी सब्सिडी के साथ उद्योग क्षेत्र के लिए 25 लाख रुपये और सेवा क्षेत्र के लिए 10 लाख रुपये की वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी। इस योजना के तहत आवेदन करने वाले इच्छुक लाभार्थी योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन पंजीकरण कर सकते हैं और यूपी युवा स्वरोजगार योजना का लाभ उठा सकते हैं।

कन्या सुमंगला योजना

यह योजना महिला एवं बाल विकास मंत्रालय, उत्तर प्रदेश सरकार के सहयोग से शुरू की गई है ताकि बालिका के जन्म पर वित्तीय सहायता प्रदान की जा सके। उत्तर प्रदेश कन्या सुमंगला योजना 2020 के प्रावधानों के अनुसार, एक परिवार को दो बेटियों द्वारा इस योजना का लाभ उठाया जा सकता है। यह योजना लड़कियों के उत्थान और समग्र विकास को ध्यान में रखते हुए तैयार की गई है।

UP Kanya Sumangala Yojana 2020

प्रथम श्रेणी: 1 अप्रैल 2020 के बाद जन्म लेने वाली नवजात लड़कियां इस श्रेणी में आवेदन करने के लिए पात्र हैं। इस श्रेणी में लड़की को एकमुश्त 2,000 रुपये दिए जाएंगे। इसकी श्रेणी के तहत, बालिका के जन्म से छह महीने के भीतर योजना में आवेदन करना अनिवार्य है।

द्रितीय श्रेणी: जिन लड़कियों ने एक वर्ष की आयु पूरी कर ली है और जिन्हें पूरी तरह से टीका लगाया गया है। उन लड़कियों को एकमुश्त 1,000 रुपये मिल सकेंगे। इसके लिए, 1 अप्रैल 2020 से पहले लड़की का जन्म नहीं होना चाहिए।

तृतीय श्रेणी: चालू शैक्षणिक वर्ष के लिए, प्रथम श्रेणी में प्रवेश करने वाली लड़की को एकमुश्त 2,000 रुपये का लाभ दिया जाएगा। इसके लिए लड़की की उम्र 3 साल या उससे अधिक होनी चाहिए। इस श्रेणी के तहत, आपको किसी मान्यताप्राप्त स्कूल में प्रवेश के 45 दिनों के भीतर या उसी वर्ष के 31 जुलाई तक आवेदन जमा करना होगा।

चतुर्थ श्रेणी: चालू शैक्षणिक वर्ष के लिए, जो लड़की कक्षा 6 में प्रवेश कर चुकी है, उसे एकमुश्त 2,000 रुपये का लाभ होगा। इसके लिए लड़की की उम्र 7 साल या उससे अधिक होनी चाहिए। इस श्रेणी के तहत, आपको किसी मान्यताप्राप्त स्कूल में प्रवेश के 45 दिनों के भीतर या उसी वर्ष के 31 जुलाई तक आवेदन जमा करना होगा।

पांचवी श्रेणी: चालू शैक्षणिक वर्ष के लिए, 9 वीं कक्षा में प्रवेश करने वाली लड़की को एक मुश्त रु। का लाभ दिया जाएगा। 3,000। इसके लिए लड़की की उम्र 10 साल या उससे अधिक होनी चाहिए। इस श्रेणी के तहत, आपको किसी मान्यताप्राप्त स्कूल में प्रवेश के 45 दिनों के भीतर या उसी वर्ष के 31 सितंबर तक आवेदन जमा करना होगा।

छठी श्रेणी: जिन लड़कियों ने कक्षा 10 या 12 वीं उत्तीर्ण की है और वर्तमान में कम से कम दो वर्षीय स्नातक स्तर के पाठ्यक्रम में नामांकित हैं। ऐसी स्थिति में, लड़की को एक मुश्त रुपये के साथ लाभान्वित किया जाएगा। 5,000। इसके लिए लड़की की उम्र 12 साल या उससे अधिक होनी चाहिए। इस श्रेणी के तहत, आपको स्नातक स्तर के दो वर्षीय डिग्री पाठ्यक्रम में प्रवेश के 45 दिनों के भीतर या उसी वर्ष के 31 सितंबर तक आवेदन जमा करना होगा।

कन्या सुमंगला योजना आवेदन

लाभ केवल उत्तर प्रदेश के स्थायी निवासी द्वारा ऑनलाइन या ऑफलाइन मोड में आवेदन करके प्राप्त किया जा सकता है। कन्या सुमंगला योजना (MKSY 2020) का लाभ एक परिवार की केवल दो लड़कियों द्वारा लिया जा सकता है। यदि किसी महिला के बच्चे के जन्म में जुड़वा बच्चे हैं, तो तीसरे बच्चे को लड़की होने पर उसके लाभ की अनुमति दी जाएगी। यह योजना गरीब, अशिक्षित जोड़ों में कन्या भ्रूण हत्या की दर को कम करने के लिए की गई है, जिसके तहत आवेदक की वार्षिक आय 3 लाख रुपये निर्धारित है। यदि कोई परिवार एक अनाथ लड़की को गोद लेता है, तो दंपति के जैविक बच्चों और दत्तक बच्चे सहित केवल दो लड़कियों को ही लाभ उठाने की अनुमति है।

उत्तर प्रदेश जनसुनवाई पोर्टल

उत्तर प्रदेश जनसुनवाई (jansunwai.up.nic.in पोर्टल) की शुरुआत तंत्र प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने की है। इस पोर्टल के माध्यम से, राज्य का कोई भी नागरिक अपनी शिकायत ऑनलाइन दर्ज कर सकता है। इस पोर्टल के माध्यम से, आपकी समस्या को संबंधित विभाग द्वारा निर्धारित समय के अनुसार हल किया जाएगा। यह एक ऑनलाइन पोर्टल है जिसके माध्यम से राज्य का कोई भी व्यक्ति अपनी शिकायत सरकार के स्तर पर पहुंचा सकता है।

Uttar Pradesh Jansunwai Portal/APP

उत्तर प्रदेश का कोई भी नागरिक jansunwai.up.nic.in पोर्टल पर पंजीकरण कर सकते हैं। इस पोर्टल पर पंजीकरण 5 मई को दोपहर से शुरू हो गया है। इस पोर्टल पर पंजीकरण को यात्रा की अनुमति नहीं माना जाएगा। सक्षम स्तर से अनुमति मिलने पर आवेदक को सूचना द्वारा सूचित किया जाएगा। यह सुविधा जनसुनवाई पोर्टल के एंड्रॉइड ऐप पर मंगलवार 5 मई को भी उपलब्ध कराई गई है।

उत्तर प्रदेश बेरोजगारी भत्ता

भारत के हर राज्य में, ऐसे हजारों युवक और युवतियाँ हैं, जो अपनी शिक्षा पूरी करने के बाद भी रोजगार पाने में सक्षम नहीं हैं। इस स्थिति में, बेरोजगारी भत्ता योजना उनके दैनिक खर्चों को पूरा करने के लिए शुरू की गई है। यूपी बेरोजगारी भत्ता योजना के तहत, उन सभी युवाओं को जिन्हें विभिन्न सरकारी और गैर-सरकारी विभागों में नहीं चुना गया है। भत्ता के रूप में वित्तीय सहायता ऐसे सभी युवाओं को यूपी बेरोजगारी भत्ता 2020 के तहत प्रदान की जाएगी। केवल उत्तर प्रदेश के स्थायी निवासी बेरोजगारी भत्ते के लिए आवेदन करने के पात्र हैं।

उत्तर प्रदेश बेरोजगारी भत्ता पंजीकरण

आपको बेरोजगारी भत्ता 2020 के लिए ऑनलाइन मोड में आवेदन करना होगा। इच्छुक व्यक्ति के परिवार की वार्षिक आय 3 लाख रुपये से कम होनी चाहिए। रोजगार करने वाले व्यक्ति के लिए कम से कम 10 वीं पास होना अनिवार्य है। एक व्यक्ति को पूरी तरह से बेरोजगार होना चाहिए, अर्थात वह किसी भी स्थान पर कोई काम नहीं कर रहा है। आवेदक की आयु 21 से 35 के बीच निर्धारित की गई है।

UP Marriage Registration – यूपी विवाह पंजीकरण

IGRSUP स्टाम्प और पंजीकरण विभाग उत्तर प्रदेश (igrsup.gov.in/) का आधिकारिक पोर्टल है, जिसे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने राज्य में संपत्ति और विवाह पंजीकरण के लिए एक ऑनलाइन पोर्टल लॉन्च करने के लिए स्थापित किया है। पहले के समय में, विवाहित जोड़ों को विवाह प्रमाणपत्र (विवाह प्रमाणपत्र) प्राप्त करने के लिए सरकारी कार्यालयों का दौरा करना पड़ता था, जिसके परिणामस्वरूप समय और धन दोनों की हानि होती थी। इस समस्या को देखते हुए, राज्य के स्टाम्प और पंजीकरण विभाग द्वारा विवाह पंजीकरण की प्रक्रिया पूरी तरह से ऑनलाइन हो गई है।

यूपी सम्पत्ति एवं विवाह पंजीकरण कैसे करें

उत्तर प्रदेश स्टाम्प एवं पंजीकरण विभाग की आधिकारिक वेबसाइट पर यूपी विवाह पंजीकरण की सुविधा उपलब्ध कराई गई है। इस वेबसाइट पर, पूर्व-विवाहित जोड़ों के विवाह पंजीकरण की सुविधा आधार-आधारित विवाह पंजीकरण प्रक्रिया के माध्यम से प्रदान की जाती है। आप आधार आधारित विवाह पंजीकरण की प्रक्रिया को बहुत आसानी से पूरा कर सकते हैं। इसके साथ ही, आप आधिकारिक वेबसाइट के माध्यम से आधार आधारित विवाह पंजीकरण सत्यापन की प्रक्रिया को भी पूरा कर सकते हैं। कोई भी दूल्हा दुल्हन के नेट बैंकिंग के माध्यम से संबंधित आवेदन शुल्क का भुगतान करके ऑनलाइन मोड में यूपी विवाह प्रमाण पत्र के लिए आवेदन प्रक्रिया को पूरा कर सकता है।

UP Pension Scheme 2020

उत्तर प्रदेश सरकार ने राज्य में रहने वाले सभी वृद्ध, विकलांग, विधवा महिलाओं को वित्तीय सुरक्षा प्रदान करने के उद्देश्य से यूपी पेंशन योजना शुरू की है। इसके तहत समाज कल्याण विभाग के सहयोग से निराश्रितों को मासिक पेंशन राशि प्रदान की जाती है। यूपी पेंशन योजना मुख्य रूप से उन पुरुषों और महिलाओं को लाभ मान्यता देने का काम करेगी जो समाज में निराश्रित रह गए हैं। राज्य सरकार संबंधित विभाग के सहयोग से वृद्ध, विकलांग, निराश्रित और विधवा महिलाओं को मासिक पेंशन प्रदान करने के लिए काम कर रही है।

उत्तर प्रदेश पेंशन योजना के प्रकार

यूपी वृद्धावस्था पेंशन योजना

यह पेंशन योजना वरिष्ठ नागरिकों को वित्तीय सहायता प्रदान करने के उद्देश्य से शुरू की गई है। इस पेंशन योजना का लाभ उठाने के लिए कुछ पात्रता मानदंड भी निर्धारित किए गए हैं। वृद्धावस्था पेंशन के तहत उत्तर प्रदेश राज्य में रहने वाले वरिष्ठ नागरिकों को प्रति माह 800 रुपये की प्रोत्साहन राशि प्रदान की जाती है।

उत्तर प्रदेश विकलांग पेंशन योजना

यह पेंशन योजना राज्य में शारीरिक रूप से अक्षम व्यक्तियों को दी जाती है। है। इस पेंशन योजना का लाभ उठाने के लिए कुछ पात्रता मानदंड भी निर्धारित किए गए हैं। उत्तर प्रदेश राज्य में रहने वाले शारीरिक रूप से अक्षम नागरिकों को विकलांग पेंशन के तहत 500 रुपये प्रति माह की प्रोत्साहन राशि प्रदान की जाती है।

यूपी विधवा पेंशन योजना

यह पेंशन योजना विधवा महिलाओं को वित्तीय सहायता प्रदान करने के उद्देश्य से शुरू की गई है। इस पेंशन योजना का लाभ उठाने के लिए कुछ पात्रता मानदंड भी निर्धारित किए गए हैं। यूपी विधवा पेंशन के तहत, एक लाभार्थी महिला को 500 रुपये मासिक की राशि प्रदान की जाती है। नागरिकों की सुविधा के लिए, उत्तर प्रदेश सरकार ने एक भू नक्शा पोर्टल शुरू किया है जिसकी सहायता से आप आसानी से अपना भू-नक्शा, नक्शा  ऑनलाइन घर से देख सकते हैं।

गन्ना मोबाइल ऐप

उत्तर प्रदेश सरकार ने गन्ना किसानों की समस्याओं को हल करने के लिए ई-गन्ना मोबाइल ऐप लॉन्च किया है। इससे पहले, गन्ना किसानों को गन्ने की पर्ची और आपूर्ति से संबंधित किसी भी समस्या को हल करने के लिए मिल कार्यालय का दौरा करना पड़ता था। अब ई-गन्ना मोबाइल ऐप लॉन्च होने के बाद, आप अपने मोबाइल फोन के माध्यम से गन्ना परची कैलेंडर 2019-2020 की जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

इसके साथ ही कुछ मामलों में गन्ना किसानों की समस्याओं को संबंधित अधिकारियों द्वारा हल नहीं किया जाता है, जैसे कि इसमें, आप caneup.in पोर्टल के माध्यम से अपनी शिकायत ऑनलाइन मोड में दर्ज करके समस्याओं का समाधान पा सकते हैं। अब किसान अपने मोबाइल, कंप्यूटर या सार्वजनिक सेवा केंद्र के माध्यम से सभी सुविधाओं का आसानी से लाभ उठा सकते हैं। ई-गन्ना मोबाइल ऐप लॉन्च होने के बाद, गन्ना पर्ची कैलेंडर देखने की प्रक्रिया आसान हो गई है।

Yogi Yojana List

मुख्यमंत्री योगी सरकारी योजनाओं का लाभ कैसे ले?

आप दिए गए आसान से चरणों का पालन करके योगी आदित्यनाथ की सरकारी योजनाओ का लाभ ले सकते हैं।

  • सबसे पहले, आपको योजना से संबंधित आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। आधिकारिक वेबसाइट पर जाने के बाद, होम पेज आपके सामने खुल जाएगा।
  • इस होम पेज पर, आपको आवेदन करने के विकल्प पर क्लिक करना होगा। ऑप्शन पर क्लिक करने के बाद आपके सामने एप्लीकेशन फॉर्म खुल जाएगा।
  • आपको आवेदन पत्र में पूछी गई सभी जानकारी को भरना है। और फिर आपको सबमिट बटन पर क्लिक करना है।

लाभार्थी सूची में नाम देखे

वह इच्छुक नागरिक जिन्होंने योगी योजनाओं का लाभ उठाने के लिए ऑनलाइन आवेदन किया है और लाभार्थियों की सूची में उनका नाम देखना चाहते हैं, तो उन्हें कुछ आसान चरणों का पालन करना होगा।

  • विभिन्न योजनाओं से संबंधित विभाग की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं, होम पेज खुल जाएगा।
  • वेबसाइट के होमपेज पर आपको लाभार्थी सूची में नाम देखने के लिए लिंक पर क्लिक कर दे।
  • उसके बाद आप आधिकारिक वेबसाइट पर लाभार्थी सूची में अपना नाम देख सकते हैं।
  • जिन लोगों का नाम इस सूची में दिखाई देगा। केवल वह इस योजना का लाभ प्राप्त कर सकता है।

संपर्क स्थापित करे

वह सभी इच्छुक व्यक्ति जो योजनाओं से संबंधित जानकारी के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ जी से संपर्क करना चाहते हैं उन्हें जनसुनवाई पोर्टल पर जाना होगा।

  • इसके लिए सबसे पहले आपको आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होमपेज खुल जायेगा।
  • वेबसाइट के होमपेज पर आपको विकल्प पर क्लिक करने के बाद, अगला पृष्ठ आपके सामने खुल जाएगा।
  • इस पृष्ठ पर, आप संपर्क नंबर देखेंगे, आप उस पर संपर्क कर सकते हैं। यदि राज्य के लोगों को किसी भी प्रकार की शिकायत है, तो वे जनसुनवाई पोर्टल पर अपनी शिकायत दर्ज कर सकते हैं और समस्याओं का समाधान प्राप्त कर सकते हैं।

यह भी पढ़े – उत्तर प्रदेश विवाह/शादी अनुदान योजना ऑनलाइन आवेदन, एप्लीकेशन फॉर्म

हम उम्मीद करते हैं की आपको मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ योजनाएं से सम्बंधित जानकारी जरूर लाभदायक लगी होंगी। इस लेख में हमने आपके द्वारा पूछे जाने वाले सभी सवालो के जवाब देने की कोशिश की है।

यदि अभी भी आपके पास इस योजना से सम्बंधित सवाल है तो आप हमसे कमेंट के माध्यम से पूछ सकते हैं। इसके साथ ही आप हमारी वेबसाइट को बुकमार्क भी कर सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *